डिप्रेशन से जूझ चुकीं दीपिका बोलीं, मानसिक स्वास्थ्य के संबंध में अभी लंबी राह तय करनी है

0
992

नई दिल्ली । दीपिका पादुकोण का कहना है कि मानसिक स्वास्य को लेकर शुरू हुई र्चचा से स्थिति पहले से बेहतर हुई है लेकिन अब भी इस दिशा में लंबी राह तय करनी है। लिव, लव, लॉफ फाउंडेशन की स्थापना करने वाली अदाकार राष्ट्रीय राजधानी में अपनी इस पहल की लेक्चर सीरीज के उद्घाटन समारोह में पहुंची थीं। इस सीरीज में मानसिक स्वास्य को लेकर समाज में फैले भ्रांतियों पर र्चचा की जाएगी।

दीपिका ने कहा, समाज में मानसिक स्वास्य को लेकर जारी र्चचा की जहां तक बात है, मुझे लगता है कि स्थिति पहले से काफी बेहतर हुई है, लेकिन निश्चित तौर पर हमें इस दिशा में और जागरूकता फैलाने के लिए अधिक कदम उठाने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि इस पर खुलकर र्चचा होने लगी है। इसको लेकर लोग अब उस तरह नहीं झिझकते हैं, जितना पहले झिझकते थे।

फिल्म पद्मावत की अदाकारा 2014 में क्लिनिकल डिप्रेशन का शिकार हुई थीं और अगले साल उन्होंने इसको सार्वजनिक तौर पर स्वीकार किया था। वर्ष 2015 में ही अदाकारा ने फाउंडेशन की शुरुआत कर मानसिक स्वास्य को लेकर जागरूकता फैलानी शुरू की थी। दीपिका ने कहा कि लेक्चर सीरीज का मकसद विभिन्न क्षेत्रों के लोगों को एक साथ लाना और मानसिक स्वास्य को लेकर जागरूकता फैलाना है।

अदाकारा ने इस दिशा में मीडिया की भूमिका की भी सराहना की। पुलित्जर पुरस्कार विजेता लेखक एवं पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित सिद्धार्थ मुखर्जी ने लेक्चर सीरीज में पहला व्याख्यान दिया। दीपिका की बहन एवं पेशेवर गोल्फर अनीशा पादुकोण भी समारोह में मौजूद थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here