ओटीटी पर ही आएगी रकुल प्रीत की फिल्म, विश्व एड्स दिवस पर नया पोस्टर जारी

0
82

नई दिल्ली। रकुल प्रीत सिंह की एडल्ट कॉमेडी फिल्म छतरीवाली सिनेमाघरों के बजाय सीधे ओटीटी प्लेटफॉर्म पर ही रिलीज होगी। वर्ल्ड एड्स डे के मौके पर Zee5 ने इसकी पुष्टि करते हुए पोस्टर शेयर किया। हालांकि, रिलीज डेट का अभी खुलासा नहीं हुआ है, पर माना जा रहा है कि फिल्म इसी महीने जी5 पर आ सकती है। बोल्ड विषय पर बनी यह फिल्म जागरूकता फैलाने के मकसद से बनायी गयी है और वर्जित समझे जाने वाले विषयों पर बात करती है। 

कंडोम टेस्टर का है किरदार
कुछ दिनों पहले खबर आयी थी कि छतरीवाली सीधे ओटीटी प्लेटफॉर्म पर आ सकती है। अब इसकी पुष्टि हो गयी है। तेजस विजय देवस्कर ने फिल्म का निर्देशन किया है। फिल्म एक ऐसी लड़की के इर्द-गिर्द घूमती है, जो बेरोजगारी की चपेट में आने के बाद कंडोम टेस्टर बन जाती है, मगर यह ऐसा सीक्रेट है, जिससे वो पर्दा नहीं उठा सकती।

जी5 ने जो पोस्टर शेयर किया है, उसमें रकुल के हाथों में ह्यूमन एनॉटमी दिखाने वाला पोस्टर है, जिस पर इंसानों के अंग और डीएनए की आकृतियां बनी हुई हैं। रकुल ने यह पोस्टर अपने इंस्टाग्राम एकाउंट से शेयर करते हुए लिखा- जमाना बदल रहा है तो हमारी सोच भी तो बदलनी चाहिए। इसके साथ वर्ल्ड एड्स डे हैशटैग भी लिखा है। सुमीत व्यास रकुल के साथ लीड रोल में हैं।

रकुल का सबसे चैलेंजिंग किरदार
इस साल रकुल की बैक टू बैक फिल्में आयी हैं, मगर छतरीवाली का किरदार सबसे मुश्किल है। सबसे पहले जॉन अब्राहम की अटैक में नजर आयीं। इस फिल्म में उन्होंने डीआरडीओ की साइंटिस्ट का किरदार निभाया था। इसके बाद अजय देवगन के साथ रकुल रनवे 34 में नजर आयीं। इस फिल्म में उन्होंने पायलट की भूमिका निभायी थी। फिल्म में अमिताभ बच्चन भी अहम रोल में नजर आये।

अक्षय कुमार की फिल्म कठपुतली में रकुल ने स्कूल टीचर का किरदार निभाया था। आयुष्मान खुराना के साथ डॉक्टर जी में रकुल ने लीड रोल निभाया और उनका किरदार डॉक्टर का था। दिवाली पर रिलीज हुई कॉमेडी फिल्म थैंक गॉड में नजर आयी थीं, जिसमें सिद्धार्थ मल्होत्रा और अजय देवगन ने लीड रोल निभाये थे। रकुल ने फिल्म में पुलिस अधिकारी का किरदार निभाया था। 

डॉक्टर जी जहां पुरुषों के स्त्री रोग विशेषज्ञ बनने को लेकर पेश आने वाली सोच पर चोट करती है, वहीं छतरीवाली कंडोम को लेकर सामाजिक वर्जनाओं पर बात करती है। ये दोनों ही फिल्में ऐसी हैं, जो अपने विषयों के जरिए एक डायलॉग शुरू करती हैं ताकि लोग इन पर बात कर सकें। आयुष्मान खुराना लगातार ऐसी फिल्में करते रहे हैं। बधाई हो, ड्रीम गर्ल, बाला, शुभ मंगल सावधान, शुभ मंगल ज्यादा सावधान और चंडीगढ़ करे आशिकी में ऐसी विषयों को उठाया गया, जिन पर बात करना आसान नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here